Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!

एनड्रायड ऐप्प इनवेंट्री मूल्य में 150 फीसदी की बढ़ोतरी

नई दिल्ली : एनड्रायड ऐप्प इनवेंट्री का मूल्य पिछले साल के मुकाबले इस साल लगभग 150 प्रतिशत बढ़ा क्योंकि विज्ञापनदाता लगातार मूल्यवान होते एनड्रायड उपयोगकर्ता को लक्ष्य करने की कोशिश कर रहे हैं।

साल 2016 की पहली तिमाही की पबमैटिक मोबाइल इंडेक्स रिपोर्ट से पता चलता है कि इस साल ऐप्प और मोबाइल वेब दोनों पर सीपीएम में औसतन 50 प्रतिशत से ज्यादा की वृद्धि हुई है क्योंकि मोबाइल प्लैटफॉर्म पर इनवेंट्री की गुणवत्ता बेहतर होती है। प्रकाशकों के लिए मार्केटिंग ऑटोमेशन सॉफ्टवेयर कंपनी पबमैटिक ने कहा कि साल 2016 की उसकी पहली तिमाही की क्वार्टर्ली मोबाइल इंडेक्स (क्यूएमआई) रिपोर्ट में पाया गया है कि विज्ञापनदाता एनड्रायड उपयोगकर्ताओं को लगातार लक्ष्य बना रहे हैं क्योंकि एनड्रायड ऐप्प का इनवेंट्री मूल्य या सीपीएम (लागत प्रति हजार विज्ञापन इंप्रेशन) साल के मुकाबले साल के हिसाब से 147 प्रतिशत बढ़ गया है। ऐप्पल आईओएस ऐप्प इनवेंट्री की कीमत अभी भी इस आधार पर ज्यादा है और आईओएस ऐप्प सीपीएम साल के मुकाबले साल के हिसाब से
सिर्फ 62 प्रतिशत बढ़ा है। इस मोबाइल एडवर्टाइजिंग मूल्य निर्धारण आंकड़े से पता चलता है कि दुनियाभर में एनड्रायड उपयोगकर्ता विज्ञापनदाताओं को लगातार बढ़ते मूल्य का प्रतिनिधित्व करते हैं।

पबमैटिक की 2016 की पहली तिमाही की क्यूएमआई रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि मोबाइल ऐप्प और मोबाइल वेब सीपीएम में पिछले साल के मुकाबले इस साल कम से कम 67 प्रतिशत और 57 प्रतिशत की वृद्धि हुई। इससे दोनों मोबाइल प्लैटफॉर्म में बढ़ती गुणवत्ता और मूल्य का पता चलता है।

Android Ad bannerमोबाइल वेब वैल्यू में सुधार प्रीमियम प्रकाशकों के लिए खासतौर से महत्त्वपूर्ण है। वे देखते हैं कि उनकी ज्यादातर मोबाइल ट्रैफिक मोबाइल वेब (मोबाइल ब्राउजर जैसे सफारी और क्रोम) से शुरू होती है। पहली तिमाही में 80 प्रतिशत मोबाइल मोनेटाइज्ड इनवेंटरी मोबाइल बेब से आई, बाकी मोबाइल ऐप्प्स से। इसका मतलब यह है कि प्रीमियम प्रकाशक अपने विज्ञापन इनवेंट्री को के ज्यादातर हिस्से को धन बनाने में
बेहतर कामयाबी पा रहे हैं।

पबमैटिक के सह संस्थापक राजीव गोयल ने बताया कि मोबाइल ऐप्प और मोबाइल वेब प्लैटफॉर्म दोनों में विज्ञापनदाताओं की मांग में वृद्धि दिख रही है और उम्मीद है कि ये प्रवृत्तियां जारी रहेंगी क्योंकि प्रीमियम प्रकाशक ब्रांड विज्ञापनदाताओं के लिए ज्यादा प्रभावी मोबाइल रणनीति बनाते हैं।

इसके अलावा, रिपोर्ट से यह खुलासा भी हुआ कि विज्ञापनदाता की मांग निजी बाजारों में स्थानांतरित हो गई है और ऐसा पहली तिमाही के दौरान प्रमुख खेल आयोजनों में हुआ जैसे सुपर बोल, छह देशों की चैम्पियनशिप और एनसीएए कॉलेज बास्केटबॉल टूर्नामेंट। दूसरी ओर, विज्ञापनदाता उन उपभोक्ताओं को लक्ष्य करना चाहते हैं जो इन आकर्षक मैच को अपने मोबाइल उपकरण पर फॉलो कर रहे थे।

तिमाही रिपोर्ट में 2016 की पहली तिमाही के परिचालन आंकड़े में से अरबों के दैनिक इंप्रेशन का विश्लेषण किया गया। तिमाही के दौरान दुनियाभर के मोबाइल एडवर्टाइजिंग में पांच प्रमुख प्रवृत्तियां पाई गईं :

* एंड्रायड ऐप्प का इनवेंट्री मूल्य साल के मुकाबले साल के हिसाब से लगभग 150 प्रतिशत बढ़ गया क्योंकि विज्ञापनदाताओं ने दुनियाभर के ज्यादातर मोबाइल उपभोक्ताओं को लक्ष्य किया है।

* प्रीमियम प्रकाशकों के लिए मोबाइल वेब ने ज्यादातर मोबाइल ट्रैफिक और इन्वेंट्री और एक अच्छे खासे मोनेटाइजेशन (पैसे बनाने के) मौके का प्रतिनिधित्व किया।

* अमेरिका और ईएमईए क्षेत्र में में औसत मोबाइल सीपीएम क्रम से 30 प्रतिशत और 64 प्रतिशत बढ़ा। इससे अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मोबाइल इनवेंट्री की बढ़ती गुणवत्ता का पता चलता है।

* प्रमुख खेल आयोजनों ने मोबाइल निजी बाजारों में अच्छा-खासा खर्च आकर्षित किया। इससे खेल क्षेत्र में पीएमपी मूल्य साल के मुकाबले साल के हिसाब से 1000 प्रतिशत बढ़ गया।

* प्रोग्रामैटिक मोबाइल सीपीएम को बेहतर कर रहा है और विस्तृत मोबाइल एडवर्टाइजिंग के विकास को गति दे रहा है।

2,137 total views, 2 views today

Enjoy this blog? Please spread the word :)